Earthquake in Nepal: नेपाल में भूकंप के झटके, 4.3 तीव्रता के साथ कांपी धरती, डर कर लोग घरों से निकलकर भागे

Earthquake in Nepal: नेपाल में लोग जहां नए साल की जश्न में डूबे थे. इसी बीच रविवार देर रात नेपाल में भूकंप के झटके महसूस किए गए. जिसकी तीव्रता 4.3 मापी गई. बताया जा रहा है की भूकंप आने के बाद लोग डर कर अपने घरों से निकलकर इधर उधर भागने लगे. अब तक की जो खबर है. उसके अनुसार किसी जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है. लेकिन लोगों के चेहरे पर डर साफ़ झलक रहा है.

Tweet:

देश की खबरें | उत्तराखंड में बाहरी व्यक्तियों के कृषि एवं उद्यान के लिए जमीन खरीदने पर अंतरिम रोक

देहरादून, 31 दिसंबर उत्तराखंड में राज्य से बाहरी व्यक्तियों के कृषि एवं उद्यान के उद्देश्य से जमीन खरीदने पर अंतरिम रोक लगा दी गयी है ।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में यहां देर शाम एक उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया ।
यहां जारी एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया,‘‘मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेशहित और जनहित में निर्णय लिया गया है कि भू-कानून समिति की आख्या प्रस्तुत किये जाने तक या अग्रिम आदेशों तक जिलाधिकारी राज्य से बाहर के व्यक्तियों को कृषि एवं उद्यान के उद्देश्य से जमीन खरीदने के प्रस्ताव में अनुमति नहीं देंगे ।’’
इससे पूर्व भी मुख्यमंत्री ने प्रदेश में भूमि क्रय से पूर्व ख़रीददार की पृष्ठभूमि के सत्यापन के उपरांत ही उसे इसकी अनुमति देने के निर्देश दिए थे ।
आज की बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि भू-कानून के लिए बनाई गई समिति द्वारा बड़े पैमाने पर जन सुनवाई की जाए और विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोगों और विशेषज्ञों की राय ली जाय।
उत्तर प्रदेश जमींदारी एवं भूमि व्यवस्था अधिनियम 1950 की धारा 154 में 2004 में किए गए संशोधन के अनुसार ऐसे व्यक्ति, जो उत्तराखंड में 12 सितंबर 2003 से पूर्व अचल संपत्ति के धारक नहीं हैं, को कृषि एवं औद्यानिकी के उद्देश्य से भूमि क्रय करने की जिलाधिकारी द्वारा अनुमति प्रदान किए जाने का प्रावधान है ।
वर्तमान में उत्तराखंड के लिए नया भू- कानून तैयार करने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रारूप समिति गठित की गई है।
तेजी से मसौदा बनाने के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी निर्णय प्रदेश के हित में लिए जा रहे है और राज्य की जनभावनाओं के अनुरूप राज्यहित में जो सर्वोपरि होगा, सरकार द्वारा उस दिशा में निरंतर कार्य किए जायेंगे।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

New Year 2024: नए साल को लेकर दिल्ली पुलिस अलर्ट, सिटी में वाहनों की जांच- VIDEO

आज साल 2023 का आखिरी दिन हैं. साल 2023 खत्म होने में अब महज चंद घंटे ही बाकी हैं. आज रात 12 बजे के बाद भारत और अन्य देशों में नए साल का जश्न मनाया जाएगा. देशभर में नए साल के स्वागत के लिए तैयारी चल रही है. इस बीच नए साल को लेकर दिल्ली पुलिस अलर्ट हो गई हैं. दिल्ली पुलिस वाहनों की जांच कर रही हैं. इसके अलावा महाराष्ट्र के ठाणे और नागपुर ट्रैफिक पुलिस द्वारा शहर के विभिन्न चौराहों पर शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ एंटी-ड्रंक एंड ड्राइव अभियान चलाया जा रहा है.

देश की खबरें | महाराष्ट्र के पालघर में बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले ट्रक चालक को 20 साल की जेल

पालघर, 31 दिसंबर महाराष्ट्र के पालघर जिले की एक अदालत ने सात साल की एक बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में दोषी पाए गए ट्रक चालक को 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। यह मामला पांच साल पुराना है।
वसई के जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एस वी खोंगल ने शनिवार को अपने आदेश में दोषी ट्रक चालक (38) पर 5,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया।
विशेष लोक अभियोजक जयप्रकाश पाटिल ने अदालत को बताया कि ट्रक चालक और बच्ची का परिवार वसई में पड़ोसी थे। पाटिल ने अदालत को बताया कि ट्रक चालक 13 मई, 2018 को टीवी दिखाने के बहाने बच्ची और उसके भाई को अपने घर लाया।
इसके बाद उसने उसके भाई को बाहर भेज दिया और लड़की का यौन उत्पीड़न किया।
न्यायाधीश ने कहा कि अभियोजन पक्ष ने ट्रक चालक के खिलाफ सभी आरोपों को सफलतापूर्वक साबित कर दिया है और उसे यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत दोषी ठहराया है।
अदालत ने ट्रक चालक को 20 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई, साथ ही यह भी कहा कि बच्ची के परिवार को इस दौरान बहुत कष्ट सहना पड़ा।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

विदेश की खबरें | पाकिस्तान : बलूचिस्तान प्रांत में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में आठ उग्रवादी मारे गए

कराची, 31 दिसंबर पाकिस्तान में दो अलग-अलग घटनाओं में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में कम से कम आठ उग्रवादी मारे गए। सेना ने रविवार को यह जानकारी दी।
सेना की मीडिया शाखा इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के अनुसार, खुफिया जानकारी प्राप्त होने के बाद शनिवार और रविवार की दरमियानी रात एक अभियान के दौरान सैनिकों और आतंकवादियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हुई, जिसमें पांच आतंकवादियों को मार गिराया गया।
सेना के मुताबिक, आतंकवादियों के ठिकाने का भी भंडाफोड़ कर हथियार, गोला-बारूद व विस्फोटकों का जखीरा बरामद किया गया है। सेना ने बताया कि क्षेत्र में छिपे अन्य आतंकवादियों के खात्मे के लिए अभियान चलाया जा रहा है।
बयान के मुताबिक, ”पाकिस्तान के सुरक्षा बल राष्ट्र के साथ कदम मिलाकर बलूचिस्तान की शांति, स्थिरता और प्रगति को नुकसान पहुंचाने के प्रयासों को विफल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”
आईएसपीआर ने बताया कि एक अलग घटना में खैबर पख्तूनख्वा के बाजौर जिले में पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे तीन उग्रवादियों को मार गिराया गया।
सेना ने एक अलग बयान में बताया, ‘‘मुठभेड़ में तीन उग्रवादियों को मार गिराया गया। मारे गए उग्रवादियों के पास से हथियार, गोला-बारूद और विस्फोटक भी बरामद किए गए।”
बयान के मुताबिक, ”पाकिस्तान लगातार अफगानिस्तान की अंतरिम सरकार से सीमा के उसके हिस्से पर प्रभावी सीमा प्रबंधन सुनिश्चित करने को कहता आ रहा है। अफगानिस्तान की अंतरिम सरकार से अपेक्षा की जाती है कि वह अपने दायित्वों को पूरा करे और पाकिस्तान के खिलाफ आतंकवादी कृत्यों को अंजाम देने के लिए आतंकवादियों को अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल करने से रोके।”
पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा और बलूचिस्तान में हाल के महीनों में आतंकी हमलों में वृद्धि हुई है।
सेना ने एक दिन पहले कहा था कि खैबर पख्तूनख्वा के उत्तरी वजीरिस्तान जिले के मीर अली इलाके में एक अभियान के दौरान पांच आतंकवादियों को मार गिराया गया था।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

New Year Celebrations 2024 in Thailand: बैंकॉक में नए साल 2024 का मनाया गया जश्न, लोगों ने ऐसे किया स्वागत; देखें शानदार वीडियो

आज साल 2023 का आखिरी दिन हैं. साल 2023 खत्म होने में अब महज चंद घंटे ही बाकी हैं. आज रात 12 बजे के बाद भारत और अन्य देशों में नए साल का जश्न मनाया जाएगा. देशभर में नए साल के स्वागत के लिए तैयारी चल रही है. इस बीच थाईलैंड ने बैंकॉक में आतिशबाजी के साथ नए साल 2024 का जश्न मनाया गया. वहीं, न्यूजीलैंड में भी नए साल का जश्न मनाना शुरू हो गया है. सबसे पहले ऑकलैंड में नया साल मनाया गया. ऑकलैंड में लोगों ने शानदार आतिशबाजी के साथ नए साल का शुरुआत किया. नए साल के मौके पर ऑकलैंड का स्काय टावर आतिशबाजी से रोशन हो गया. स्काई टॉवर पर 10 सेकेंड के काउंट डाउन के बाद जमकर आतिशबाजी शुरू हुई. यह आतिशबाजी 5 मिनट जारी रहीं.

देश की खबरें | नीतीश कुमार के पास 1.64 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति

पटना, 31 दिसंबर बिहार सरकार की वेबसाइट पर अपलोड किए गए संपत्ति के ताजा विवरण के मुताबिक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 1.64 करोड़ रुपये की चल और अचल संपत्ति के मालिक हैं।
बिहार सरकार की वेबसाइट पर 31 दिसंबर को अपलोड किए गए मुख्यमंत्री और उनके कैबिनेट सहयोगियों की संपत्ति के विवरण के अनुसार, नीतीश के पास 22,552 रुपये नकद हैं और विभिन्न बैंकों में लगभग 49,202 रुपये जमा हैं।
नीतीश कुमार सरकार द्वारा सभी कैबिनेट मंत्रियों के लिए प्रत्येक कैलेंडर वर्ष के आखिरी दिन अपनी संपत्ति और देनदारियों का खुलासा करना अनिवार्य कर दिया गया है। ताजा खुलासे के मुताबिक कई मंत्री मुख्यमंत्री से भी ज्यादा अमीर हैं।
कैबिनेट सचिवालय विभाग की वेबसाइट पर मुख्यमंत्री द्वारा किए गए खुलासे के अनुसार, नीतीश के पास 16.84 लाख रुपये की चल संपत्ति है जबकि उनके पास 1.48 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है।
मुख्यमंत्री के पास नई दिल्ली के द्वारका में एक सहकारी आवास सोसायटी में केवल एक आवासीय फ्लैट है।
खुलासे के मुताबिक बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के पास 50,000 रुपये नकद हैं, जबकि उनकी पत्नी राजश्री के पास एक लाख रुपये नकद हैं।
उपमुख्यमंत्री के बड़े भाई तेजप्रताप यादव के पास 98,562 रुपये नकद हैं। तेजप्रताप के पास करीब 3.58 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति भी है।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

देश की खबरें | बिहार में राजनीतिक गहमागहमी के बीच विधानसभा अध्यक्ष ने लालू से की मुलाकात

पटना, 31 दिसंबर बिहार में जारी राजनीतिक गहमागहमी के बीच विधानसभा अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी ने रविवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद से मुलाकात की।
चौधरी ने पार्टी सुप्रीमो से उनकी पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आधिकारिक आवास पर मुलाकात की। चौधरी एक राजद विधायक भी हैं।
इस मुलाकात के दौरान लालू प्रसाद के बड़े बेटे और मंत्री तेज प्रताप यादव भी मौजूद थे। तेज प्रताप एक अलग घर में रहते हैं।
मुलाकात के बाद चौधरी ने संवाददाताओं से कहा, “मैं नए साल की पूर्व संध्या पर लालू जी को शुभकामनाएं देने के लिए गया था। इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं था।”
यह घटनाक्रम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा अपने विश्वासपात्र माने जाने वाले सहयोगी राजीव रंजन सिंह “ललन” के इस्तीफे के बाद अपनी पार्टी जद (यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने के बाद हुआ।
ऐसी अटकलें लगायी जा रही थीं कि ललन और लालू की नजदीकीयां से जदयू के शीर्ष नेता नीतीश असहज हो गए थे। हालांकि, इस तरह की अटकलों को दूर करने के उद्देश्य से, नीतीश और ललन शुक्रवार की रात दिल्ली से लौटने पर साथ दिखे थे जहां जद (यू) कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया था।
ललन ने उन मीडिया संगठनों पर मुकदमा करने की भी धमकी दी है, जिन्होंने यह खबर चलाई थी कि उन्होंने नीतीश को पद से हटाने की साजिश रचने के लिए राजद के इशारे पर यहां जदयू विधायकों की बैठक की थी।
खबर में कहा गया था कि इस कथित योजना का उद्देश्य राजद सुप्रीमो के छोटे बेटे और उनके राजनीतिक उत्तराधिकारी माने जाने वाले उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को आगे बढ़ाना था।
दिलचस्प बात यह है कि नीतीश कुमार ने कई अवसरों पर युवा राजद नेता तेजस्वी को आगे बढाने का इरादा व्यक्त करते हुए यह स्पष्ट कर चुके हैं कि 2025 में अगले विधानसभा चुनाव में युवा राजद नेता सत्तारूढ़ महागठबंधन का नेतृत्व करेंगे।
इस बीच नीतीश कुमार अपने पुराने सहयोगी शिवानंद तिवारी से मिलने के लिए यहां एक निजी अस्पताल में भी गए । तिवारी अभी लालू की पार्टी राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं।
ललन ने अपने लोकसभा क्षेत्र मुंगेर में एक सार्वजनिक सभा में कहा, “भाजपा समर्थित मीडिया की अफवाहों से प्रभावित न हों।”
उन्होंने दावा किया, “नीतीश कुमार और लालू प्रसाद के बीच कोई अविश्वास नहीं है। लोकसभा चुनाव में महागठबंधन भाजपा को करारी शिकस्त देने जा रहा है।”
जदयू के पूर्व अध्यक्ष ललन ने पद छोड़ने के बाद एक समाचार चैनल से कहा था कि ”लोकसभा चुनाव से पहले अपने निर्वाचन क्षेत्र में व्यस्तता के कारण” वह पार्टी का पद छोड़ने की उनकी खुद की इच्छा थी ।
ललन ने इन अटकलों को भी खारिज कर दिया कि नीतीश कुमार ने भाजपा के नेतृत्व वाले राजग के प्रति अपना रुख नरम कर लिया है।
उन्होंने जद (यू) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में अपनाए गए राजनीतिक प्रस्ताव की ओर भी इशारा किया जिसमें सांसदों और आरोपियों के सामूहिक निलंबन के लिए नरेन्द्र मोदी सरकार की आलोचना की गई थी और इसे “देश को संविधान के स्थान पर मनुस्मृति के अनुसार चलाने” की कोशिश बताया गया था।
इस बीच, बिहार में मौजूदा घटनाक्रम को लेकर राजग खेमे में असमंजस की स्थिति बनी हुई है।
भाजपा के सहयोगी उपेन्द्र कुशवाहा और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने दावा किया कि मुख्यमंत्री को अपने पुराने कट्टर प्रतिद्वंद्वी रहे लालू से हाथ मिलाने का “पछतावा” हो रहा है। कुशवाहा ने लगभग एक साल पहले अपनी पार्टी बनाने के लिए जद (यू) छोड़ दी थी। मांझी अपने हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा को जद (यू) में विलय करने के नीतीश के दबाव से बचने के लिए राजग में शामिल हो गए थे।
मांझी ने जहां दावा किया कि नीतीश कुमार “कई भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं” , वहीं कुशवाहा का मानना है कि अगर जद (यू) सुप्रीमो वापसी की इच्छा रखते हैं, तो भी उन्हें दोबारा प्रवेश नहीं मिलेगा क्योंकि उनका जनाधार खत्म हो चुका है।
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी जैसे भाजपा नेताओं का कहना है कि आंतरिक कलह के कारण बिहार की महागठबंधन सरकार किसी भी समय गिर सकती है, पर अब भाजपा नीतीश के साथ एक और गठबंधन नहीं करेगी।

(यह सिंडिकेटेड न्यूज़ फीड से अनएडिटेड और ऑटो-जेनरेटेड स्टोरी है, ऐसी संभावना है कि लेटेस्टली स्टाफ द्वारा इसमें कोई बदलाव या एडिट नहीं किया गया है)

New Year 2024: नए साल की पूर्व संध्या सबरीमाला मंदिर में दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी- VIDEO

आज साल 2023 का आखिरी दिन हैं. साल 2023 खत्म होने में अब महज चंद घंटे ही बाकी हैं. आज रात 12 बजे के बाद भारत और अन्य देशों में नए साल का जश्न मनाया जाएगा. देशभर में नए साल के स्वागत के लिए तैयारी चल रही है. इस बीच केरल के पथनमथिट्टा में नए साल की पूर्व संध्या सबरीमाला मंदिर में दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी है.

Maharashtra: नितिन करीर बने महाराष्ट्र के नए मुख्य सचिव, विवेक फणसलकर प्रभारी DGP नियुक्त

मुंबई, 31 दिसंबर: महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नितिन करीर को नया मुख्य सचिव नियुक्त किया, जबकि मुंबई के पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर को राज्य के पुलिस महानिदेशक का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है.

57 वर्षीय करीर निवर्तमान मुख्य सचिव मनोज सौनिक की जगह लेंगे, जबकि फणसलकर अगले आदेश तक निवर्तमान डीजीपी रजनीश शेठ से अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करेंगे. यह भी पढ़े: Mumbai New CP: विवेक फणसलकर मुंबई के बने नए पुलिस कमिश्नर, संजय पांडे की जगह लेंगे

सौनिक और शेठ दोनों के रविवार को सेवानिवृत्ति होने के बाद राज्य के दो शीर्ष पद खाली हो गए थे और नए अधिकारियों ने रविवार शाम को अपने-अपने कार्यभार संभाल लिए हैं.